Saur Sujala Yojana (सौर सुजला योजना) | Chhattisgarh government scheme 

Saur Sujala Yojana - Chhattisgarh government scheme 

Saur Sujala Yojana 

सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) छत्तीसगढ़ के किसानों को विद्युत विहीन खेतों में सिचाई सुविधा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा  1 नवंबर 2016 को नया रायपुर में  सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) की शुरुआत हुई थी| सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) के तहत राज्य सरकार छत्तीसगढ़ में किसानों को सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंप (Solar Irrigation Pumps) प्रदान करेगा जिससे वे अपनी भूमि पर कृषि व सिंचाई कर सकते हैं | छत्तीसगढ़ में ऐसे कई गांव हैं जहाँ राज्य सरकार द्वारा आज भी बिजली नहीं पहुंचाई जा सकी है | इसलिए सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) उन किसानों के लिए एक वरदान की तरह है जिन्हें सिंचाई के लिए बिजली की जरूरत पड़ती थी|

Benefit of Scheme –

  1. सौर सुजला योजना (Saur Sujala Yojana) का मुख्य उद्देश्य रियायती दरों (subsidized rates) पर उन्हें सौर सिंचाई पंप (Solar Irrigation Pumps) प्रदान करके किसानों को सशक्त बनाना है |
  2. इस योजना से न केवल किसान अपनी भूमि पर खेती करने के लिए अधिक सक्षम होंगे बल्कि इस योजना के तहत ग्रामीण छत्तीसगढ़ में कृषि और ग्रामीण विकास को मजबूत बनाने में भी मदद मिलेगी |
  3. सौर सुजला योजना के तहत सरकार क्रमश: 3HP और 5HP क्षमता वाले सौर ऊर्जा संचालित सिंचाई पंपों (Solar Irrigation Pumps) को किसानों को वितरित करेगी |
  4. 5HP क्षमता वाले सोलर पम्प , जिसका बाजार मूल्य 4.5 लाख रुपय है , वह सामान्य वर्ग के किसानों को 20 हजार , अन्य पिछड़ा वर्ग कृषक को 15 हजार तथा अनुसूचित जाति / जनजाति वर्ग के किसानों को मात्र 10 हजार रुपय के अंशदान पर दिया जाता है |
  5. 3HP क्षमता वाले सोलर पम्प के लिए इन वर्गों के किसानों को क्रमशः 18 हजार , 12 हजार व 7 हजार रूपये के अंशदानपर उपलब्ध कराया जाता है |
  6. पंप 31 मार्च 2019 तक किसानों को रियायती दरों (subsidized rates) पर उपलब्ध कराये जायेंगे |
  7. सौर सुजला योजना  के तहत अगले दो साल में छत्तीसगढ़ में लगभग 51000 किसान लाभान्वित होंगे | इस योजना को उन क्षेत्रों में प्राथमिकता के आधार पर लागू किया जाएगा जहां बिजली अभी तक नहीं पहुँची है |

Source –